Bhagya Laxmi Ring (लैब सर्टिफिकेट के साथ)

SKU: SPE07  IN STOCK

पुराणों और शास्त्रों के अनुसार कछुआ को भगवान् विष्णु का कच्छप अवतार माना जाता है। माँ लक्ष्मी भी कछुए के मंथन से प्रकट हुई थी इसलिए ये कछुए की अंगूठी पहनना शुभ माना जाता है और भाग्य के सारे रास्ते खोलता है। ये अंगूठी धन प्राप्ति के सारे रास्ते खोलती है और व्यापार - नौकरी में अद्भुत दिशा प्रशस्त करती है।

₹600.00 72% off ₹2100.00

Detail information

Weight/Size3gm - 4.5gm
Ring SizeAdjustable, one size fits all
MetalSilver
Ring Quality92.5% Sterling Silver
CertificationGovernment Approved Lab
Pooja/EnergizationBasic Energization (Free)
Delivery TimeApprox 3-7 Days (All over India)
Order on Whatsapp +91 70112 39569

भाग्य लक्ष्मी अंगूठी के सम्पूर्ण लाभ की प्राप्ति के लिए इस अंगूठी को सही विधि से धारण करना पड़ता है।

आइये जानते हैं भाग्य लक्ष्मी अंगूठी को धारण करने के चमत्कारी लाभ।

  • भाग्य लक्ष्मी अंगूठी को चांदी में धारण करना ही शुभ प्रभाव देता है।
  • धन को अपनी ओर आकर्षित करने और भाग्य का साथ पाने के लिए भाग्य लक्ष्मी अंगूठी धारण करनी चाहिए।
  • धार्मिक मान्यताओं के अनुसार कछुआ घर में बरकत लेकर आती है।
  • कर्ज के बोझ को समाप्त करने के लिए भाग्य लक्ष्मी अंगूठी बहुत ही कारगर होती है और घर में सभी तरह की परेशानियां दूर करती है।
  • आत्मविश्वास और सभी तरह के दोष को शांत करने के लिए भाग्य लक्ष्मी अंगूठी धारण करना बहुत ही लाभकारी माना जाता है।
  • वैवाहिक जीवन में खुशहाली के लिए भाग्य लक्ष्मी अंगूठी धारण वरदान साबित होती है।
  • अगर दिमाग में नकारात्मक विचार आते हैं तो भाग्य लक्ष्मी अंगूठी को धारण करें जिससे आपका मन शांत रहेगा।
  • व्यापार में निरंतर बाधाएं उत्पन्न होती हैं तो भाग्य लक्ष्मी अंगूठी धारण करने से आपको लाभ मिलेगा और व्यापार में आपकी स्थिति को मजबूत कर देगी।
  • अगर आप बार - बार बीमार पड़ रहे हैं तो आपको भाग्य लक्ष्मी अंगूठी पहननी चाहिए उससे आपको शीघ्र लाभ देखने को मिलेगा।
  • गृह क्लेश को समाप्त करने के लिए भाग्य लक्ष्मी अंगूठी धारण करनी चाहिए।

भाग्य लक्ष्मी अंगूठी को धारण करने की विधि।

भाग्य लक्ष्मी अंगूठी को धारण करने से पहले दूध या दही में भिगाकर मां लक्ष्मी के पास रखें, इसके बाद इसे गंगा जल से साफ करें। ऐसा करने से मां लक्ष्मी की कृपा आप पर सदैव बनी रहेगी। माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद माने जाने वाली यह भाग्य लक्ष्मी अंगूठी को शुक्रवार के दिन दाएं हाथ की मध्यमा उंगली में धारण करना चाहिए। कछुए की अंगूठी धारण करते समय इस बात का ख्याल रखना चाहिए कछुए का सिर बाहर की तरफ हो।

Reviews

No customer reviews

Leave a review

Write a review